NRC kya hai – पूरी जानकारी हिंदी में

NRC kya hai
NRC kya hai

इस आर्टिकल में हम बात करने वाले है के NRC kya hai आप जानते हो क्या आप 2019 में सबसे ज्यादा सर्च किये जाने वाले चीज के बारे में जानना चाहते हो तो आप इस लेख को पढ़ते रहिये में आगे में आपको बताऊंगा की NRC Kya hai और NRC full form क्या है ये एक्ट कबसे लागु होगा इस सब की जानकारी हम आपको बताएंगे।

NRC full form in hindi

ये एक्ट भारत सरकार ने 2019 में बार पड़ने वाला है NRC ka full form (National Register of Citizens of India) और अभी तो ये एक्ट एक ही स्टेट में लागु किया है फिर धीरे धीरे बाकि के राज्यों में लागु कर देंगे क्यों की जो भारत के नागरिक नहीं है उसे भारत से बहार निकाल सके एक तरफ से देखा जाये तो इसमें सबका भला है क्यों की ऐसे लोगो की वजह से देश को नुकशान होता है.

NRC kya hai – पूरी जानकारी हिंदी में

जैसा की मेने आपको बताया की ये एक्ट जो भारत के नागरिक नहीं है और भारत में रह रहे है ये उसके लिए एक्ट है और सब राज्यों के पास अपना डेटाबेस है छोटे से छोटे राज्य के पास अपना डेटाबेस है पहले ये database सभी के पास नहीं था धीरे धीरे इसको बढ़ाया गया है जिससे नागरिको का जनसँख्या और biomatric करेंगे .

NRC का का मतलब होता है की जो इंडिया में रहते है उनका रिकॉर्ड रजिस्ट्री में रखते है जो भारतीय नागरिक है और उनकी जनसँख्या भी शामिल होगी और जो भारत के नागरिक नहीं है उसके लिए ये एक्ट है ये एक्ट 1951 तहत किया गया है अब तक इससे अपडेट नहीं किया गया है.

NRC बिलकुल भी धर्म के आधारित नहीं है ये एक्ट जो भारत के नागरिक नहीं है फिर भी भारत में रह रहे है ये उनके लिए है भारत पडोसी देश पाकिस्तान और बांग्लादेश के मुस्लिम धर्म के लोग के सिवाय जितने भी लोग है उनके लिए ये नागरिकता दी जाएगी उनका धर्म कुछ भी हो उसको भारत में निर्वासित करना ही भारत का एक्ट है.

25 March1971 से पहले रहने वाले सबके लिए ये एक्ट लागु किया गया है और बाकि को इस लिस्ट से बहार किया गया है NRC का नियम ये है की जो गैरकानूनी रह रहे है उन्हें बहार निकला जाये। 1971 में बहुत से लोग बांग्लादेश के लोग westbangal में घुस गए थे उन्हें बहार निकालना है फ़िलहाल हालातो को देखकर ये एक्ट एक ही राज्य में लागु किया गया है वो राज्य है असम.

NRC 1951 में अमल में लिया गया था भारतीय नागरिक क्र रूप में मान्यता के लिए करोडो आवेदनों आये थे लोगो को गैरकानूनी नागरिक माना गया 1955 के section 14 A में मुताबिक आपको NRC में रजिस्टर होना अनिवार्य है और असम और मेघालय को छोड़कर पुरे इंडिया को इसमें रजिस्टर किया गया है ये अपडेट 2015 -2016 में किया गया है

NRC 1951 में अमल में लिया गया था भारतीय नागरिक क्र रूप में मान्यता के लिए करोडो आवेदनों आये थे लोगो को गैरकानूनी नागरिक माना गया 1955 के section 14 A में मुताबिक आपको NRC में रजिस्टर होना अनिवार्य है और असम और मेघालय को छोड़कर पुरे इंडिया को इसमें रजिस्टर किया गया है ये अपडेट 2015 -2016 में किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here